Sunday, July 2, 2017

"Mhari Chand Kanwar" Mere Rashke Qamar Rajasthani Video Song Baawale Chore

"Mhari Chand Kanwar" Mere Rashke Qamar
Rajasthani Video Song Latest Song by
Baawale Chore


Song:- Mhari Chand Kanwar {Rajasthani Version Of MERE RASHKE QAMAR}
Singer/Rapper:- Baawale Chore
Lyrics recreated:- Baawale chore
Music :- kapil jangir
Starring:- Jyoti Choudhary
Rapper:- Kishu Nain
Singer:- Nadeem Silawat
Ass. Director:- Vikas Runthla
Co-ordinetor:- Rahul Singh Bisht
Video By:- Dev Jatrana {jaipur}

Lyrics Of The Song 

 म्हारी चाँद कंवर थारी पहली नजर,
म्हारी चाँद कंवर थारी पहली नजर,
जद नजर सु मिलाई मजो आईगो।


म्हारी चाँद कंवर थारी पहली नजर,
म्हारी चाँद कंवर थारी पहली नजर,
जद नजर सु मिलाई मजो आईगो।
बावलों करगी रे, कांड ही करगी रे।
बावलों करगी रे, कांड ही करगी रे।
आग एड़ी लगाई मजो आईगो।
म्हारी चाँद कंवर...........


RAP

नैनो से नैन मीले थे जो थारे, नैनो से नैन मिले थे जो म्हारे।
जो म्हारे वो थारे , जो थारे वो म्हारे
ना जाने गजब के हुआ।
पता सब को आज ये चल गया,
की देख थने चाँद भी जल गया।
झलक को थारी एक तरस में गया, कद से राजी हु बनने को थारा पिया।
घणी देर से तू म्हणे क्यों जला री रे काला किया जल के म्हारा जिया।
काला कीया जल के म्हारा जिया।(2)
थने पाने को मैने क्या क्या किया, कदे माला फेरी कदे पाठ किया।
भरी गर्मी में धूप में बैठ कर थारे वासते उपवास किया।
देख तपस्या म्हारी तू गली , कदम दो कदम तू भी आगे बढ़ी।(2)
प्यार ने ऐसा दीवाना किआ के म्हारी सांसो से थारी सांसे चली।
म्हारी सांसो से थारी.......
सांसे चली।

.............................................................

म्हारी चाँद कंवर थारी पहली नजर,
म्हारी चाँद कंवर थारी पहली नजर,
जद नजर सु मिलाई मजो आईगो।
म्हारी चाँद कंवर थारी पहली नजर,
म्हारी चाँद कंवर थारी पहली नजर,
जद नजर सु मिलाई मजो आईगो।
बावलों करगी रे, कांड ही करगी रे।
बावलों करगी रे, कांड ही करगी रे।
आग एड़ी लगाई मजो आईगो।
म्हारी चाँद कंवर...........


RAP

म्हारी चाँद कंवर थारी पेहली नजर, जद नजर सु मिलाई मजो आईगो।
म्हारी चाँद कंवर थारी पेहली नजर, जद नजर सु मिलाई मजो आईगो।
बावलो करगी रे कांड ही करगी रे आग एड़ी लगाई मजो आईगो।
बावलो करगी रे कांड ही करगी रे आग एड़ी लगाई मजो आईगो।
पेग में घोल कर हुस्न री मस्तिया ,
बावली मुस्कुराई मजो आईगो।(2)
चाँद री छाया में ओ म्हारे साथिया , तू तो एडी पिलाई मजो आईगो।
.............................................................
म्हारी चाँद कंवर थारी पहली नजर,
म्हारी चाँद कंवर थारी पहली नजर,
जद नजर सु मिलाई मजो आईगो।

म्हारी चाँद कंवर थारी पहली नजर,
म्हारी चाँद कंवर थारी पहली नजर,
जद नजर सु मिलाई मजो आईगो।
बावलों करगी रे, कांड ही करगी रे।
बावलों करगी रे, कांड ही करगी रे।
आग एड़ी लगाई मजो आईगो।
म्हारी चाँद कंवर...........

0 comments:

Post a Comment